आधार कार्ड

Aadhar Card Me Mobile Number link Kaise Kare // का OTP क्यों नहीं आता

Spread the love

Aadhar Card आज के समय में सबसे जरूरी डॉक्यूमेंट बन गया है जिससे सरकार द्वारा अधिकारी UIDAI जारी करती है
UID अपने ग्राहकों को हमेशा एक ही सुझाव देती है की अपने आधार कार्ड में अपने मोबाइल नंबर, अपना नाम, एड्रेस, हमेशा सही रखें

👉 क्रेडिट कार्ड के नुकसान | Click Here

Adhar card kya hai

आधार कार्ड 12 अंकों का एक निजी विशिष्ट पहचान पत्र है, जिसे भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण भारत सरकार की ओर से जारी किया जाता है यह संख्या  किसी भी एक व्यक्ति की ही होती है जो उस व्यक्ति की पहचान और पत्ते को प्रमाणित करती है

Aadhar Card से जुड़ी सारी जानकारी आपको मोबाइल नंबर पर मिलती रहती है अगर आपका आधार कार्ड आपके मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी से लिंक नहीं है तो आपको आधार कार्ड से संबंधित बहुत सारी सूचना नहीं मिल पाएगी जिसके चलते आप बहुत बड़े फ्रोड़ के शिकार भी हो सकते हो

Aadhar Card
Aadhar Card

Aadhar Card me phone number Update

अगर आपने अपने Aadhar Card में मोबाइल नंबर अपडेट करवा लिया तो आप को Aadhar Card से रिलेटेड कई योजनाओं का लाभ ले सकते है जिसे आधार कार्ड में नाम, एड्रेस, लिंग, जानकारी आसानी से करवा सकते हैं इसके साथ ही अगर आप का आधार कार्ड खो गया है तो ऐसे में आप PVC Aadhar Card ऑर्डर कर सकते हैं या निकलवा सकते हो
लेकिन फिर भी कई लोगों की यह शिकायत रहती है कि उनके Aadhar Card में मोबाइल नंबर लिंक होने के बाद भी कई बार मैसेज नहीं आता है

Aadhar card mobile number link ka fayda


आधार कार्ड में मोबाइल नंबर लिंक करने का सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि रोज होने वाले फ्रोड़ से बचाएंगे क्यों की आज कल हर रोज नये नये फ्रोड़ के तरीके सामने आ रहे है जिससे आज भी आम आदमी को ठगा जा रहा है अगर आप के आधार कार्ड में आप के फोन नंबर लिंक है तो आप को हर तरह से सावधान किया जायेगा

Aadhar Card से मोबाइल नंबर लिंक कैसे करें

आधार कार्ड मोबाइल नंबर अपडेट करने के लिए आपको अपनी बायोमेट्रिक( biometric authentication) करना जरूरी है इस के लिए आप को आधार सेंटर जाना होगा वह जाकर आप ये करा सकते हो

मोबाइल पर ओटीपी नहीं आने की दो ही वजह हो सकती है या तो आपके मोबाइल के मैसेज बॉक्स में मैसेज फुल हो गए हैं या फिर आपके मोबाइल में मैसेज की सेटिंग सही नहीं है

Aadhar Card Ka OTP क्यों नहीं आता है


आधार कार्ड मोबाइल नंबर लिंक होने के बाद भी OTP नहीं आने से बहुत से लोग कई प्रकार की मिलने वाली सुविधा का लाभ लेने से वंचित रह जाते है इसका सबसे बड़ा कारण है कि मोबाइल का नेटवर्क कमजोर है या खराब, जिससे मोबाइल को मैसेज नहीं मिल पाता है

यह समस्या सबसे ज्यादा गांव में या फिर दूर रहने वाले लोगों की आती है जहा सबसे ज्यादा नेटवर्क की समस्या रहती है
और वैसे भी समस्या से मुक्ति पाने के लिए AM Aadhar APP अपने मोबाइल में डाउनलोड कर सकते हैं इस ऐप के जरिए आप सभी मैसेज को अपने मोबाइल पर आसानी से प्राप्त कर सकते हैं- कुछ मुख्य कारण 👇👇

मोबाईल का इनबॉक्स full होना

सबसे पहले आपको आपके मोबाइल के इनबॉक्स है उस में जाकर वह की सारी OTP को डिलीट करना है क्यों की इनबॉक्स full हो जाने की वजह से मैसेज नहीं आता है

मोबाईल की सेटिंग


कई बार हम फोन की सेटिंग करते-करते मैसेज की सेटिंग को ब्लॉक कर देते हैं जिसके कारण हमारे पास किसी प्रकार का कोई मैसेज नहीं आता है इसलिए आपको कस्टमर केयर को कॉल करके अपने ब्लॉक मैसेज को वापस चालू करवाना होगा इसके आलावा कई बार बे बे मैसेज से परेशान होकर भी हम मैसेज को ब्लाक कर देते है जिसके कारण फिर मैसेज नही आता है

सर्वर प्रोब्लम

कभी-कभी नेटवर्क प्रॉब्लम की वजह से भी मैसेज नहीं आता है, अगर आपके मोबाइल में भी नेटवर्क नहीं है तो आप एक बार अपने फोन को बंद करके दोबारा चालू कर ले उसके बाद आपके मोबाइल में मैसेज आना सुरु हो जायेगा

Bina OTP Aadhar Card Kaise Nikale

बिना ओटीपी के आधार कार्ड निकालने के लिए आपको आधार कार्ड की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा, वहां पर Get Adhar  में Order Aadhar PVC Card  पर क्लिक करना होगा जहां पर Download Aadhar  का ऑप्शन मिलेगा यहां पर आधार नंबर डालकर किसी भी अपने मोबाइल पर ओटीपी भेजना होगा वह ₹50 का भुगतान करना होगा अब यह कारण आपके  पोस्टल एड्रेस पर भेज दिया जाएगा

Aadhar card
Aadhar card

Aadhar Card Kaise kaam karta hai

आधार कार्ड,  व्यक्ति के बायोमैट्रिक डाटा पर जारी किया जाता है इसके लिए आंखों में अंगुलियों के फिटनेस कैप्चर करके उसे डिजिटल रूप में सॉफ्टवेयर के द्वारा आधार नंबरों पर ऐड कर दिया जाता हैसॉफ्टवेयर के द्वारा आंखों में अंगुलियों  कोई स्कैन करके जैसे  ही यूजर की पूर्ण डिटेल डाल कर सुमित किया जाता है तो सॉफ्टवेयर द्वारा उस यूजर को 12 अंकों का एक यूनिक आईडी दे दी जाती है जिसे ही आधार कार्ड कहते हैं, इन आधार कार्ड नंबरों की सहायता से आधार कार्ड होल्डर्स कभी भी अपने डिटेल्स और लिंग डाक्यूमेंट्स को देख सकता है

Aadhar Card ke Nuksan

जब आधार कार्ड की बात आती है तो हमेशा आधार कार्ड के सिर्फ फायदों पर ही बात की जाती है और हो भी क्यों ना,आधार कार्ड से काफी सुबह लेट हो रही है क्योंकि सभी डॉक्यूमेंट इससे लिंक हो जाते हैं और बार-बार पेपर वर्क नहीं करना होता है लेकिन फिर भी जहां फायदा होता है वहां नुकसान जरूर होता है इसलिए आज आधार कार्ड के कुछ नुकसान जानेंगे

  • आधार कार्ड का सबसे खराब पिक्चर्स कौनसा है शायद यह जज करना थोड़ा सा मुश्किल है लेकिन फिर भी कुछ बिंदुओं पर बात करते हैं जैसे
  • बढ़ती उम्र के साथ बायोमेट्रिक मशीन का काम ना करना,  इसे सबसे बड़ी दिक्कत उन बुजुर्ग लोगों को होती है जो बायोमेट्रिक के द्वारा बैंकों से पेमेंट विड्रोल करते हैं
  • आधार कार्ड के डाटा लीक हो जाने पर यह काफी बड़ी समस्या हो जाती है क्योंकि किसी भी गुजर के सारे डॉक्यूमेंट आधार में लिंक होते हैं ऐसी स्थिति में अगर आधार के रेट आलेख होते हैं तो यह किसके पास सभी प्रकार के डाटा पहुंच जाते हैं

Aadhar card ki Savdhaniyan

आधार कार्ड के कोई ज्यादा नुकसान तो नहीं है लेकिन  फिर भी कुछ सावधानियां है जिनका हमेशा हमें ध्यान रखना चाहिए जैसे

  • यूआईडीएआई ई आधार को डाउनलोड करें – इस बात का हमेशा विशेष ध्यान रखें कि अपना आधार कार्ड डाउनलोड करने के लिए कभी भी दूसरी या फिर थर्ड पार्टी वेबसाइट का यूज ना करें अपना आधार कार्ड डाउनलोड करने के लिए आपको हमेशा यूआईडीएआई की ऑफिशियल वेबसाइट का ही इस्तेमाल करना चाहिए
  • पब्लिक कंप्यूटर या नेट का यूज ना करें – अगर आपको अपना आधार कार्ड डाउनलोड करना है या फिर उसमें किसी भी प्रकार का कोई Correction करना है तो इसके लिए पब्लिक कंप्यूटर या पब्लिक वाईफाई का यूज ना करें ऐसा करने से आपके डाटा लीक हो सकते हैं 
  • आधार कार्ड को लॉक रखें- यूआईडीएआई आधार कार्ड होल्डर स्कोर अपने आधार बायोमैट्रिक को लॉक करने की सुविधा देता है ऐसा करने से आपके आधार कार्ड का कोई दूसरा व्यक्ति मिस यूज नहीं कर सकता इसके लिए आप m-aadhaar App का यूज कर सकते हो
  • आधार ओटीपी किसी के भी साथ शेयर ना करें-  अगर प्रोड की बात करें तो ओटीपी एक जरूरी बिंदु है आधार कार्ड होल्डर्स को यह ध्यान रखना चाहिए कि उनका आधार ओटीपी किसी के साथ शेयर ना हो
  • मोबाइल नंबर अपडेट रखें- आधार कार्ड में आपके मोबाइल नंबर हमेशा अपडेट रहने चाहिए अगर आपने कोई नया नंबर लिया है तो उसे तुरंत अपने अकाउंट में लिंक करा लेनी चाहिए
  • आधार को वेरीफाई करें- यूआईडीएआई आधार कार्ड को ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों प्रकार से वेरीफाई करने का ऑप्शन देती है,  ऑफलाइन के लिए अपने आधार कार्ड का क्यूआर कोड स्कैन करना होगा वही ऑनलाइन के लिए myaadhar.uidai.gov.in पर जाकर चेक कर सकते हो

Aadhar card ke fayde

आधार कार्ड भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण भारत सरकार द्वारा एक पहचान पत्र है जो अपनी कई विशेषताओं के कारण कुछ ही सालों में भारतीय नागरिकों के लिए मुख्य आईडी का स्थान ले चुका है

  • आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से लिंक करने के बाद सरकार की तरफ आने वाली सभी प्रकार की सब्सिडी डायरेक्ट ग्राहक के अकाउंट में आ जाती है
  • आधार कार्ड एक डिजिटल आईडी प्रूफ है जिसको कहीं पर भी डाउनलोड किया जा सकता है
  • आधार कार्ड का एड्रेस प्रूफ और पहचान पत्र के रूप में स्वीकार किया जाता है जिसका यूज अकाउंट ओपनिंग से लेकर सिम कार्ड लेने तक किया जा सकता है
  • कई काम ऐसे होते हैं जो आधार कार्ड नंबर से ही हो जाते हैं इसके लिए आधार कार्ड साथ रखने की भी जरूरत नहीं होती अगर आपको अपने आधार नंबर याद है तो आपका काम हो जाएगा 
  • आधार कार्ड में किसी भी प्रकार का बदलाव या करेक्शन करने के लिए या तो उसमें लिंक मोबाइल पर ओटीपी से किया जा सकता है या फिर बायोमेट्रिक का यूज करना होता है इसलिए यह काफी हद तक सुरक्षित भी है

ये भी जाने.. 👇👇

👉Personal Loan क्या है, पर्सनल लोन के प्रकार, योग्यता, शर्ते
👉बैंकिंग फ्रोड़ का नया तरीका || E Sim फ्रोड़ क्या है || Banking Fraud

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *