किन किन लोगो को नही देना होगा Toll Tax || Which people will not have to pay Toll Tax

Spread the love

Toll Tax.…जब भी हम हाईवे पे गाड़ी लेकर निकलते है तो सबसे पहले जो टेंशन है वो है toll tex की…. 10 से 20 किलोमीटर चले नही की भारी राशी टोल टेक्स के रूप में देनी पड़ जाती है

आगरा से लखनऊ expressway जाने पर भारी टोल टैक्स भरना होता है ये आगरा लखनऊ हाईवे में एक ही टोल प्लाजा है , रांची से बरई या रांची से धनबाद जाना हो तो, कम से कम दो बार toll tex भरना पड़ता है रांची से निकलते पहला टोल टैक्स ओरमांझी में देना पड़ता है, दूसरा हजारीबाग और तीसरा बरही मे

अगर आप सडक मार्ग से delhi जा रहे है तो आपको एक तरफ से कम से कम लगभग 1500 रूपए देने पड़े और आगरा से लखनऊ जाना पड़े तो भारी टोल देना पड़ता है लेकिन कम से कम 25 ऐसी केटेगरी है जिनसे toll tax नही वसूला जाता .

इनमे सांसद(लोक सभा सदस्य) विधायक और तमाम सरकारी कर्मचारी आते है डेथ बॉडी ले जाने वाली गाड़ी का भी टोल टैक्स नही लिया जाता

REET Level 1st 2022 की संभावित Cut Off यहाँ जाने

Toll Tax // Toll नाको पर हर गाड़ी का अलग अलग शुल्क

Toll नाको पर हर गाड़ी के लिए अलग अलग शुल्क लिया जाता है जेसे बस और ट्रक लोडिंग गाड़ी के लिए ज्यादा टैक्स लिया जाता है वही छोटी कार पर्सनल गाडी का टैक्स कम लिया जाता है .ऐसे में शातिर लोग बड़ी गाडियों पर छोटी गाड़ी का fasteg लगाकर घपला कर रहे है fasteg न लगवाने पैर दोगुना charge वसूला जाता है

Toll Tax Free 25 श्रेणि के व्हीकल

Toll Tax मोजुदा टाइम में देश के करीब -करीब सभी एक्सप्रेस वे और हाईवे स्टेट हाईवे इनपे टोल टैक्स वसूला जा रहा है ,लेकिन केंद्र सरकार के नियमो के मुताबिक मोजुदा समय में 25 वाहनों से कोई टोल टैक्स नही लिया जायेगा

केवल एक दसक पहले तक केवल 9 श्रेणी के लोगो के वाहनों से टोल नही लिया जाता था जो आजकल केंद्र सरकार बढाकर 25 कर दी है .

Toll Tax में किन किन को है छुट

देश में जिन गाडियों से टोल टैक्स नही वसूला जाता उनमे राष्ट्रपति ,उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ,मंत्री से लेकर संसद ,जज मगिस्तेरिअत सहित बड़े बड़े आधिकारी के नाम भी सामिल होते है विभिन मंत्रालयों के अधिकारी भी निजी वाहनों का टोल नही देते है

इसके अलावा रक्षा ,पुलिस ,fire फाइटिंग ,एम्बुलेंस शव वाहन चुनिन्दा राज्य और केंद्र सरकार के अधिकारी ,म्जेस्त्रेट ,सचिव ,रास्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारी शामिल है राज्य सरकार के द्वारा दी जाने वाले लोगो की सूचि अलग होती है

Fastag लगाकर राजस्व की चोरी कैसे

Toll Tax केंद्र सरकार ने 15 फरवरी 2021 से पुरे देश के Toll Tax प्लाजा पर fastag अनिवार्य कर दिया है .टोल पार करने के लिए लोग बड़ी बड़ी गाडियों पर छोटी गाडियों का fastag लगा के निकल रहे है जिससे राजस्व को नुकसान हो रहा है

national highway authority of india (NHI) के अधिकारियो की जाच में पत्ता चला है की टोल को पार करने वाली गाड़ी दूसरी है और FASTAGकिसी और गाड़ी का लगा रखा है ऐसे में लगभग 300रूपए से 500 रूपए की चोरी हो जाती है जिससे सरकार को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है

What are loan guarantee schemes || ऋण गारंटी योजनाएं क्या हैं

E-Shram Card ई-श्रम कार्ड क्या है // How To Register E-Shram Card

Pan Card || पैन कार्ड बनाये घर बैठे 2 मिन्ट में वो भी फ्री || Pan Card Kaise Banaaye

iPhone 12 or 12 Pro की कुछ खास जानकारी | special information

Aadhar Card में घर बेठे ही अपडेट करे || Update Aadhar Card from home

Which people will not have to pay Toll Tax

In the vehicles from which toll tax is not collected, the names of big officials including President, Vice President, Prime Minister, Minister to Parliament, Judge Magisteriat are also included.

किन किन लोगो को नही देना होगा Toll Tax

देश में जिन गाडियों से टोल टैक्स नही वसूला जाता उनमे राष्ट्रपति ,उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ,मंत्री से लेकर संसद ,जज मगिस्तेरिअत सहित बड़े बड़े आधिकारी के नाम भी सामिल होते है विभिन मंत्रालयों के अधिकारी भी निजी वाहनों का टोल नही देते है

Fastag लगाकर राजस्व की चोरी कैसे करते है

केंद्र सरकार ने 15 फरवरी 2021 से पुरे देश के Toll Tax प्लाजा पर fastag अनिवार्य कर दिया है .टोल पार करने के लिए लोग बड़ी बड़ी गाडियों पर छोटी गाडियों का fastag लगा के निकल रहे है जिससे राजस्व को नुकसान हो रहा है

Toll नाको पर हर गाड़ी का अलग अलग शुल्क क्यों देना होता है

Toll नाको पर हर गाड़ी के लिए अलग अलग शुल्क लिया जाता है जेसे बस और ट्रक लोडिंग गाड़ी के लिए ज्यादा टैक्स लिया जाता है वही छोटी कार पर्सनल गाडी का टैक्स कम लिया जाता है .ऐसे में शातिर लोग बड़ी गाडियों पर छोटी गाड़ी का fasteg लगाकर घपला कर रहे है fasteg न लगवाने पैर दोगुना charge वसूला जाता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.